मेरी तरह कोई उम्मीदवार चुनाव के समय इतना निश्चिंत नहीं था : मोदी

नरेंद्र मोदी आज वाराणसी के दौरे पर हैं। मोदी के दौरे को देखते हुए सुरक्षा-व्यवस्था कड़ी रखी है। लोकसभा चुनाव में जीत के बाद मोदी पहली बार काशी पहुंचे हैं।

By: एबीपी गंगा | Updated: 27 May 2019 01:50 PM
narendra modi first varanasi visit after winning in loksabha election

वाराणसी, एबीपी गंगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज अपने संसदीय क्षेत्र काशी में हैं। लोकसभा चुनाव में जीत के बाद मोदी आज सुबह काशी विश्वनाथ मंदिर पहुंचे, जहां उन्होंने बाबा विश्वनाथ का आशीर्वाद लिया। इसके बाद मोदी ने दीनदयाल संकुल में भाजपा कार्यकर्ताओं को संबोधित किया। मोदी ने कहा कि मैं भी भारतीय जनता पार्टी कार्यकर्ता होने के नाते पार्टी और कार्यकर्ता जो आदेश करते हैं उसका पालन करने का भरसक प्रयास करता हूं। एक मास पूर्व जब 25 तारीख को मैं यहां था तब जिस आन-बान-शान के साथ काशी ने एक विश्वरूप दिखाया था और वो सिर्फ काशी या उत्तर प्रदेश को प्रभावित करने वाला नहीं था उसने पूरे हिन्दुस्तान को प्रभावित किया।


काशी तो अविनाशी है, काशी ने जो स्नेह और शक्ति मुझे दी है, ऐसा सौभाग्य मिलना बहुत मुश्किल है। शायद ही कोई उम्मीदवार चुनाव के समय इतना निश्चिंत होता होगा, जितना मैं था। इस निश्चिंतता का कारण आपका परिश्रम और काशीवासियों का विश्वास था। नतीजे और मतदान दोनों समय मैं निश्चिंत था और बड़े मौज के साथ केदारनाथ में बाबा के चरणों में बैठ गया था।


मोदी ने आगे कहा, 'इस चुनाव में अलग-अलग दलों के साथी और निर्दलीय साथी जो मैदान में थे, उनका भी मैं आभार व्यक्त करता हूं कि उन्होंने पूरी गरिमा के साथ काशी के चुनाव अभियान को आगे बढ़ाया। मैं सभी अन्य उम्मीदवारों का मन से अभिनंदन करता हूं। पूरे देश में और सोशल मीडिया में यहां की बेटियों ने जो स्कूटी यात्रा निकाली उसकी बड़ी चर्चा है, स्कूटी पर बैठकर हमारी बेटियों ने पूरी काशी को अपने सिर पर बैठा लिया था। मैं काशी के संगठन से जुड़े लोगों का, हर कार्यकर्ता का और हर समर्थक का इस बात के लिए आभार करता हूं कि उन्होंने इस चुनाव को जय-पराजय के तराजू से नहीं तोला। उन्होंने चुनाव को लोक संपर्क, लोक संग्रह, लोक समर्पण का पर्व माना। इस चुनाव की सभी कसौटियों पर आप डिस्टिंक्शन मार्क्स के साथ पास हुए हैं, इसलिए आप सभी अभिनंदन के पात्र हैं।'


उन्होंने कहा कि आज उत्तर प्रदेश देश की राजनीति को नई दिशा दे रहा है। 2014 हो, 2017 हो या 2019 हो, ये हैट्रिक छोटी नहीं है। उत्तर प्रदेश के गांव का गरीब व्यक्ति भी देश की सही दिशा के बारे में सोचता भी है और उस दिशा में चलता भी है। देश के राजनीतिक विशेषज्ञों को ये बात माननी पड़ेगी कि Arithmetic के आगे भी एक Chemistry होती है।


पहली बार हुआ ऐसा, नामांकन के बाद सीधा नतीजों के बाद आया प्रत्याशी : शाह
इससे पहले भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने भी भाजपा कार्यकर्ताओं को संबोधित किया। शाह ने कहा, 'मैं बीजेपी की तरफ से काशी, उत्तर प्रदेश, उसके सभी मतदातागण और कार्यकर्ताओं को हाथ जोड़कर प्रणाम करने आया हूं। काशीवासियों ने पीएम मोदी से कहा था कि अब देश में प्रचार करिए, काशी में आप काउंटिंग खत्म होने के बाद आइएगा। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और प्रदेश अध्यक्ष महेन्द्र नाथ पांडेय के नेतृत्व में बीजेपी को लोकसभा चुनावों में बड़ी जीत मिली। मैं बीजेपी की तरफ से काशी, उत्तर प्रदेश, उसके सभी मतदातागण और कार्यकर्ताओं को हाथ जोड़कर प्रणाम करने आया हूं।'


अमित शाह ने आगे कहा कि देश के चुनावी इतिहास में यह पहली बार होगा जब प्रत्याशी नामांकन के बाद सीधा नतीजों के बाद क्षेत्र में आया हो। फिर भी काशी की जनता ने मोदी जी पर विश्वास बनाए रखा। आप लोग बहुत भाग्यशाली हो क्योंकि मोदी जी जैसा जनप्रतिनिधि काशीवासियों को मिला है।


बतादें कि लोकसभा चुनाव में बंपर जीत के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी में हैं। मोदी काशीवासियों का धन्यवाद करने यहां पहुंचे हैं। मोदी सोमवार सुबह करीब साढ़े 9 बजे वाराणसी एयरपोर्ट पहुंचे। एयरपोर्ट पहुंचने पर राज्यपाल राम नाईक और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ समेत तमाम नेताओं ने उनका स्वागत किया।


मोदी ने काशी विश्वनाथ मंदिर में बाबा विश्वनाथ की पूजा भी की, उनके साथ भाजपा अध्यक्ष अमित शाह और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी मौजूद रहे। मोदी के दौरे को लेकर काशीवासियों में जबरदस्त उत्साह है। मोदी के आगमन को लेकर कई जगहों पर कार्यकर्मों का आयोजन किया जा रहा है। इसके अलावा सुरक्षा-व्यवस्था भी चाक चौबंद रखी गई है।


प्रधानमंत्री की यात्रा के मद्देनजर सुरक्षा के भारी बंदोबस्त किये गये हैं। मोदी जहां जहां से गुजरेंगे वहां अर्धसैनिक और विशेष सुरक्षा दल के कर्मी बड़ी संख्या में तैनात किये गये हैं। बतादें कि लोकसभा चुनाव में जीत के बाद मोदी का पहला वाराणसी दौरा है।