मानसून की मंद चाल ने बढ़ाई परेशानी, आसमान से बरस रही आग ने किया परेशान

मौसम विज्ञानियों के अनुसार बारिश दूर होने की वजह से पारा चढ़ा है, आने वाले दिनों में लोगों को गर्मी से राहत मिलती हुई नहीं दिख रही है।

By: एबीपी गंगा | Updated: 06 Jun 2019 04:12 PM
heat wave continues in eastern part of Uttar Pradesh

वाराणसी, एबीपी गंगा। असमान से आग बरस रही है और गर्मी ने प्रचंड रूप धारण कर रखा है। पूर्वांचल में इन दिनों भीषण गर्मी पड़ रही है, पारा भी सामान्‍य अधिक रिकॉर्ड हुआ है ऐसे में मौसम काफी ने लोगों की परेशानी बढ़ा दी है।  मानसून भी लगभग दस दिन तक पीछे चल रहा है। ऐसे में पूर्वांचल में मानसूनी सक्रियता कम होने की संभावना के बीच चढ़ता हुआ पारा भी लोगों को दुश्‍वारी दे रहा है। दिन चढ़ते ही गर्म हवा से लोग तपन महसूस कर रहे हैं। गर्मी का आलम यह है कि दोपहर में सड़कों पर सन्नाटा पसर जाता है।


गर्मी ने किया परेशान


बीते चौबीस घंटों में अधिकतम तापमान 42 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया जो सामान्‍य से दो डिग्री अधिक था। वहीं न्‍यूनतम तापमान 30.5 डिग्री दर्ज किया गया जो सामान्‍य से तीन डिग्री अधिक रहा। मौसम विज्ञानियों के अनुसार बारिश दूर होने की वजह से पारा चढ़ा है, आने वाले दिनों में लोगों को गर्मी से राहत मिलती हुई नहीं दिख रही है। हालांकि, पहाड़ों पर होने वाली बारिश का मामली असर पूर्वांचल में भी दिख सकता है।



मानसून की मंद रफ्तार


पूर्वांचल में अमूमन 15 जून के आसपास सोनभद्र जिले से मानसून की शुरूआत हो जाती है। मगर इस बार मानसून अभी तक अपने तय समय से करीब दस दिन पीछे चल रहा है। अगर मानसून ने अपनी सक्रिय गति नहीं पकड़ी तो पूर्वांचल तक आते आते माह का आखिरी सप्‍ताह भी लग सकता है। यही स्थिति रही तो पूर्वांचल में 25 जून तक मानसून की आमद हो सकती है।