एसएसपी ऑफिस में बदमाश का सरेंडर, हाथ जोड़कर बोला- मुझे जेल भेज दो

मेरठ में एसएसपी कार्यालय में शादाब नाम के एक बदमाश ने सरेंडर कर दिया है। शादाब पर 25 हजार रुपये का इनाम था।

By: मनीष नेगी | Updated: 09 Oct 2019 05:39 PM
criminal surrender in SSP office in Meerut

मेरठ, एबीपी गंगा। अपराधियों में पुलिस का खौफ साफ देखने को मिल रहा है। बदमाशों में खाकी का खौफ इतना है कि कुछ अपराधी अडरग्राउंड हो गए हैं या फिर कुछ तो जमानत तुड़वा कर जेल चले गए। साथ ही एनकाउंटर के डर से अपराधी खुद ही पुलिस के सामने सरेंडर कर रहे हैं। मेरठ में भी एक बदमाश ने एसएसपी ऑफिस पहुंचकर सरेंडर किया है। जिस बदमाश की तलाश में पुलिस पिछले एक हफ्ते से एड़ी चोटी का जोर लगाए हुए थी। उसी बदमाश ने बुधवार को अचानक एसएसी कार्यालय पहुंचकर सरेंडर कर दिया। सरेंडर करने वाले बदमाश का नाम शादाब है और वो लिसाड़ी गेट थाना क्षेत्र का रहने वाला है। शादाब पर 25 हजार रुपये का इनाम भी था।


दरअसल, शादाब एक लाख के इनामी बदमाश रह चुके जुबैर का भाई है। जुबैर को करीब एक महीने पहले पुलिस दौराला इलाके में हुई मुठभेड़ में ढेर कर चुकी है। जुबैर के भाई शादाब का नाम चिन्नू हत्याकांड में सामने आया था। जिसके बाद से वो फरार चल रहा था। पुलिस ने शादाब पर 25 हजार रुपये का इनाम घोषित किया था। पुलिस काफी समय से उसकी तलाश में जुटी थी। हालांकि, बुधवार को उसने अपने परिजनों के साथ एसएसपी कार्यालय पहुंचकर सरेंडर कर दिया। शादाब के चेहरे पर पुलिस की दहशत साफ नजर आ रही थी। शादाब एसएसपी के सामने हाथ जोड़कर गिड़गिड़ाते हुए गुहार लगाने लगा कि उसे तत्काल जेल भेज दिया जाए। जिसके बाद कप्तान ने आरोपी को संबंधित थाना पुलिस के हवाले कर दिया।


शादाब का कहना है कि वो निर्दोष है। मगर इसके बावजूद वह पुलिस की गोली का शिकार नहीं होना चाहता। लिहाजा उसे तत्काल जेल भेज दिया जाए। एसएसपी अजय साहनी ने तत्काल थाना पुलिस को बुलाकर आरोपी को लिसाड़ी गेट पुलिस के हवाले कर दिया।