एसटीएफ को मिली बड़ी सफलता, बीजेपी विधायक की हत्या करने आए तीन शूटर गिरफ्तार

वाराणसी में मुठभेड़ के दौरान यूपी एसटीएफ की टीम ने तीन शूटरों को गिरफ्तार किया है। ये शूटर बीजेपी विधायक की हत्या के लिए रेकी कर रहे थे।

By: मनीष नेगी | Updated: 10 Aug 2019 09:01 AM
up stf arrested three shooter in Varanasi

लखनऊ, एबीपी गंगा। उत्तर प्रदेश पुलिस की स्पेशल टास्क फोर्स (एसटीएफ) को बड़ी सफलता हाथ लगी है। एसटीएफ की टीम ने पूर्वांचल के कई जिलो सहित बिहार में की गई सनसनीखेज हत्याओं एवं जानलेवा हमले की घटनाओं को अंजाम देने वाले तीन शातिर शूटरों को गिरफ्तार किया है। एसटीएफ ने कुख्यात अपराधी शिव प्रकाश तिवारी उर्फ धोनी तिवारी सहित तीन शातिर शूटर गिरफ्तार किये हैं। तिवारी पर एक लाख रुपये का इनाम भी है। तिवारी के अलावा पुलिस ने मनीष केसरवानी और अंजनी सिंह को गिरफ्तार किया है।


एसटीएफ ने इन बदमाशों को वाराणसी जिले में कैण्ट थाना क्षेत्र के टकटकपुर गैस गोदाम के पास मुठभेड़ के बाद पकड़ा। पुलिस ने बदमाशों के पास से देसी पिस्टल, तीन जिंदा कारतूस, दो खोखा कारतूस, दो तमंचे, दो जिंदा कारतूस, बरामद किए हैं।बता दें कि शूटर तिवारी ने साल 2011 में हिंदू युवा वाहिनी के प्रदेश संयोजक विष्णु दत्त ओझा की हत्या को अंजाम दिया था। यहीं नहीं, शातिर शूटर ने जेल में रहने के दौरान बस्ती और प्रयागराज में भी कई घटनाओं को अंजाम दिया था।


बीजेपी विधायक की हत्या का था प्लान
पुलिस प्रवक्ता के अनुसार पूछताछ के दौरान बदमाशों ने स्वीकार किया है कि उनका इरादा विधायक सुशील सिंह की हत्या करने का था, जिसके लिए वे अपने साथियों के साथ वाराणसी आकर रेकी कर रहे थे। सुशील सिंह चंदौली के सैयदराजा से भाजपा विधायक हैं। विधायक के अलावा शूटरों ने दो और लोगों की भी हत्या का प्लान बनाया था। एसटीएफ को मुखबिर के द्वारा शातिर शूटरों के बारे में पता चला जिसके बाद पुलिस ने जाल बिछाकर बदमाशों को धर दबोचा।


यह भी पढ़ें: गाजियाबाद के लोनी में मुठभेड़ के दौरान घायल हुआ बदमाश, पुलिस ने किया गिरफ्तार