योगी कैबिनेट का फैसला, बापू की 150वीं जयंती पर होगा विधानमंडल का दो दिवसीय विशेष सत्र

उत्तर प्रदेश में दो अक्टूबर से दो दिवसीय विधानमंडल का विशेष सत्र बुलाया जाएगा। राज्य सरकार के प्रवक्ता और कैबिनेट मंत्री श्रीकांत शर्मा ने ये जानकारी दी।

By: मनीष नेगी | Updated: 10 Sep 2019 06:11 PM
up assembly special session called for two days on 2nd October

लखनऊ, एजेंसी। राष्ट्रपति महात्मा गांधी की 150वीं जयंती के उपलक्ष्य में उत्तर प्रदेश की विधानमंडल में दो अक्टूबर से दो दिवसीय विशेष सत्र बुलाया जाएगा। मंगलवार को हुई कैबिनेट की बैठक में ये फैसला लिया गया है।


राज्य सरकार के प्रवक्ता और ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा ने मंगलवार को संवाददाताओं को बताया कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में हुई मंत्रिमंडल की बैठक में दो अक्टूबर से विधानमंडल का दो दिवसीय विशेष सत्र बुलाने के निर्णय को हरी झंडी दे दी गयी।


उन्होंने बताया, ‘‘इस सत्र की बैठक दो अक्टूबर को सुबह 11 बजे शुरू होकर तीन अक्टूबर की रात तक लगातार चलेगी। इस बैठक में विधानमंडल के तमाम सदस्य संयुक्त राष्ट्र द्वारा अनुमोदित समन्वित विकास सम्बन्धी लक्ष्यों के बारे में चर्चा करेंगे।’’ शर्मा ने बताया, ‘‘बैठक में भारत द्वारा वर्ष 2015 में हस्ताक्षरित संयुक्त राष्ट्र प्रस्ताव में बताये गये सतत विकास के लक्ष्य को हासिल करने के उपायों पर भी बात होगी।’’


विधानमंडल का विशेष सत्र बुलाने का निर्णय विधानसभा अध्यक्ष हृदय नारायण दीक्षित की अध्यक्षता में पिछले महीने हुई सर्वदलीय बैठक में लिया गया था। भारत समेत 106 देशों ने संयुक्त राष्ट्र द्वारा घोषित सतत विकास लक्ष्य सम्बंधी दस्तावेज पर दस्तखत किये हैं। इनमें गरीबी उन्मूलन, लैंगिक आधार पर भेदभाव को समाप्त करने, कुपोषण, सभी को स्वास्थ्य, सभी को बिजली, सभी को शिक्षा, पोषण तथा पीने का साफ पानी उपलब्ध कराने के लक्ष्य शामिल हैं।


विधानमंडल के इस विशेष सत्र में सभी विधायकों और विधान परिषद सदस्यों के पास अपने-अपने निर्वाचन क्षेत्रों में व्याप्त समस्याओं को सामने रखने और सतत विकास के लिये जरूरी सुझाव देने का मौका होगा।