घर के बाहर बेटों संग सो रहा था पिता, काल बनकर पटला ट्रक; तीनों की मौत

कानपुर के नौबस्ता में ट्रक पलटने से हुए एक दर्दनाक हादसे में पिता सहित उसके दो बच्चों की मौत हो गई। बताया जा रहा है कि पिता अपने दो बच्चों के साथ घर के बाहर मच्छरदानी लगाकर सो रहे थे। बिजली ना आने के कारण बच्चों ने जिद की बाहर सोने की उनकी इसी जिद्द ने परिवार के 3 लोगों की जान ले ली।

By: एबीपी गंगा | Updated: 14 May 2019 11:24 AM
Truck fall on father sleeping with sons outside house in kanpur naubasta died

कानपुर, एबीपी गंगा। कानपुर में एक परिवार में उस वक्त मातम पसर गया, जब एक ही परिवार के तीन सदस्य मौत की आगोश में समा गए। दरअसल, गर्मी के मौसम में पिता अपने दो बेटों के साथ घर के बाहर मच्छरदानी लगाकर सो रहे थे। सुबह तड़के चावल लदा ट्रक किनारे खड़ा करते समय नाला धसने से घर के बाहर सो रहे पिता और दोनों बेटों के उपर पलट गया, जिससे तीनों की मौके पर ही मौत हो गई।


क्रेन की मदद से तीनों का निकाला गया शव


ट्रक धसने की जानकारी लगते ही परिवार समेत आसपास के क्षेत्र में हड़कंप मच गया और सूचना पाकर मौके पर पहुंची नौबस्ता थाना पुलिस ने क्रेन की सहायता से ट्रक को हटवाया और तीनों शवो को बाहर निकलवाया। शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।



परिवार में मचा कोहराम


नौबस्ता थाना क्षेत्र के हमीरपुर हाइवे पर उस वक्त दर्दनाक हादसा हो गया, जब सड़क किनारे ट्रक खड़ा करते समय नाला धसने से चावल लदा ट्रक पलट गया और घर के बाहर सो रहे तीन लोगों की दब कर मौत हो गई। नौबस्ता निवासी रिंकू तिवारी सिक्योरिटी गार्ड का काम करते हैं और वो अपने दोनो बेटों अभिषेक (13 साल) और लक्ष्मी नारायण (5 साल) के साथ घर के बाहर सो रहे थे। तभी सुबह तड़के ये पूरा हादसा हुआ और तीनों लोगो की मौत हो गई। वहीं, घटना के बाद पूरे परिवार में कोहराम मच गया। मृतक के पिता कैलाश तिवारी ने बताया कि उनका लड़का और उनके दो लड़के घर के बाहर सो रहे थे, तभी पड़ोसी का ट्रक खड़ा करते समय नाला धसने से पलट गया और हमारे लड़के और उसके दो लड़को की मौत हो गई।


घटना की जांच की जा रही: पुलिस


मौके पर पहुंचे ए सी एम आर पी वर्मा ने बताया कि नौबस्ता गल्ला मंडी से पहले नौबस्ता चौकी के पास एक ट्रक नाले की उपर चढ़ गया, जिससे वहां सो रहे तीन लोगों की मौत हो गई है। कैसे क्या घटना हुई है उसकी जांच की जा रही है।