जुदाई के डर से प्रेमी युगल ने उठाया खौफनाक कदम, ऐसे हुआ अटूट प्यार की कहानी द एंड 

चकेरी पुलिस ने मौके पर पहुंच कर पड़ताल की तो सामने आया कि मरने वाला 21 वर्षीय नागेंद्र सिंह यादव फतेहपुर खागा के बाला का पुरवा निवासी है और उसके साथ जान देने वाली युवती की शिनाख्त नहीं हो सकी है।

By: एबीपी गंगा | Updated: 13 Jun 2019 05:08 PM
lovers suicide in kanpur

कानपुर, एबीपी गंगा। इश्क लो आग है जो लगाए न लगे और बुझाए न बुझे। प्यार में आशिक एक-दूसरे के साथ जीने-मरने की कसमें खाते हैं और कुछ तो जान भी दे देते हैं। ऐसा ही एक मामला कानपुर से सामने आया है जहां साथ जीने-मरने की कसमें खा चुके प्रेमी युगल किसी भी कीमत पर अलग नहीं होना चाहते थे। परिजनों की नजरें बचाकर दोनों वैष्णोदेवी दर्शन करने चले गए पर जब लौटे तो घर जाने की हिम्मत नहीं जुटा सके। डर की वजह से दोनों ने मौत को गले लगा लिया। प्रेमी युगल ने ट्रेन के सामने कूदकर जान दे दी। बैग में मिला सामान उनके अटूट प्यार की कहानी को बयां कर रहा था।


युवक की हुई शिनाख्त


घटना बुधवार रात की है जब प्रेमी युगल आपस में गले में हाथ डालकर ट्रेन के आगे कूद गए। ट्रेन की चपेट में आने से दोनों की मौत हो गई। युवक व युवती की मौत होने की जानकारी पर लोगों की भीड़ एकत्र हो गई। रामादेवी में रेलवे लाइन के पास गार्ड ने स्टेशन मास्टर को दो लोगों के ट्रेन के आगे कूदने की सूचना दी। चकेरी पुलिस ने मौके पर पहुंच कर पड़ताल की तो सामने आया कि मरने वाला 21 वर्षीय नागेंद्र सिंह यादव फतेहपुर खागा के बाला का पुरवा निवासी है और उसके साथ जान देने वाली युवती की शिनाख्त नहीं हो सकी है।



वैष्णो देवी से लौटने के बाद की आत्महत्या


चकेरी पुलिस के मुताबिक मृतक प्रेमी युगल के बैग से मिले ड्राइविंग लाइसेंस से युवक की शिनाख्त हो गई है। उसमें मिली फोटो व कागजात से साफ है कि यह लोग आठ जून को वैष्णो देवी में थे और वहां से लौटने के बाद आत्महत्या कर ली। उनके पास से एक आइ लव यू लिखा कुशन मिला है। फोटो देखकर आशंका है कि दोनों ने घर से भागकर शादी कर ली थी और लौटने की हिम्मत नहीं जुटा पा रहे थे। युवती की शिनाख्त का प्रयास किया जा रहा है।