तलाश रहें हैं निवेश का बेहतर विकल्प तो क्लिक कर पढ़ें ये खबर, मार्च 2020 के बाद नहीं मिलेगा मौका

PMVVY को ऑनलाइन या ऑफलाइन दोनों तरीकों से खरीदा जा सकता है। इस पॉलिसी का टर्म 10 साल का होता है। इस स्कीम में निवेश एक बार पैसा देकर किया जा सकता है।

By: एबीपी गंगा | Updated: 10 Oct 2019 08:16 PM
know How to invest in Pradhan Mantri Vaya Vandana Yojana

नई दिल्ली, एबीपी गंगा। केंद्र सरकार ने वरिष्ठ नागरिकों के लिए बड़ा एलान किया है। सरकार ने प्रधानमंत्री वय वंदन योजना (PMVVY) में कुछ अहम बदलाव करते हुए इसमें निवेश की रकम की सीमा को दोगुना कर दिया है। इतना ही नहीं योजना की अवधि भी बढ़ा दी गई है। इस योजना के तहत आपको हर महीने 10 हजार रुपये तक की पेंशन भी मिल सकती है। तो चलिए जानते हैं कि क्या है ये स्कीम और कैसे इसमें कर सकते हैं निवेश।


जानें- निवेश की आखिरी तारीख
प्रधानमंत्री वय वंदन योजना (PMVVY) में 10 वर्षों तक निवेश करना होता है। इस योजना को जीवन बीमा निगम चलाता है। इसमें निवेश ऑफलाइन और ऑनलाइन दोनों तरीकों से किया जा सकता है। पीएमवीवीवाई स्कीम में निवेश करने की आखिरी तारीख 31 मार्च 2020 है। इस स्कीम में निवेश एक बार पैसा देकर किया जा सकता है।


PMVVY


मिलता है बेहतर रिटर्न
PMVVY में न्यूनतम निवेश 1,44,578 रुपये और अधिकतम 14,45,783 रुपये करना होता है। इससे आपको मासिक 12,000 रुपये और साल में 1.20 लाख रुपये पेंशन मिलती है। इसमें सालाना 8.3 फीसदी का रिटर्न मिलता है।


मौजूद हैं विकल्प
प्रधानमंत्री वय वंदन योजना के तहत नागरिकों को दस साल तक आठ फीसदी सालाना रिटर्न की गारंटी के साथ पेंशन दी जाती है। हालांकि इसमें पेंशन लेने वाले के पास विकल्प है कि वह मासिक, तिमाही, छमाही और सालाना पेंशन ले सकते हैं। योजना में 60 साल और उससे अधिक उम्र के नागरिक निवेश कर सकते हैं।


pension


ये है फायदे का सौदा
निवेश की रकम की सीमा दोगुनी करने से वरिष्ठ नागरिकों को काफी फायदा होगा। अब निवेश सीमा 15 लाख रुपये कर दी गई है, जबकि पहले यह 7.5 लाख रुपये थी। पहले प्रधानमंत्री वय वंदन योजना चार मई 2017 से तीन मई 2018 के लिए ही थी। अब इसके तहत निवेश करने की अवधि को बढ़ाकर 31 मार्च 2020 कर दिया गया है।