नोएडा पुलिस ने ऑपरेशन क्लीन-10 में पकड़े 60 विदेशी नागरिक, 10 नाइजीरियन चकमा देकर फरार

ऑपरेशन क्लीन-10 के तहत नोएडा पुलिस ने 60 विदेशी नागरिकों को हिरासत में लिया, जिसमें 10 नाइजीरियन पुलिस को चकमा देकर फरार हो गए हैं। जिनकी तलाश की जा रही है।

By: एबीपी गंगा | Updated: 12 Jul 2019 10:16 AM
Noida Police Operation clean 10 ten Nigerian escaped from police custody

ग्रेनो, एबीपी गंगा। ग्रेटर नोएडा में ऑपरेशन क्लीन-10 के तहत पकड़े गए विदेशी नागरिकों में से 10 नाइजीरियन पुलिस को चकमा देकर फरार हो गए हैं। ये नाइजीरियन पुलिस लाइन से खाकी को चकमा देकर बाथरूप की खिड़की तोड़कार भाग निकले। फिलहाल, पुलिस फरार नाइजीरियन की तलाश कर रही है, लेकिन अभी तक उनका कुछ पता नहीं चल पाया है।


बता दें कि ग्रेट नोएडा में पुलिस ने एलआईयू के साथ ऑपरेशन क्लीन-10 चलाया, जो बुधवार को सुबह 6 बजे से 10 बजे तक चलाया गया। तीन टीमों ने जनपद में विदेशी नागरिकों के सत्यापन को लेकर छापेमारी की थी। इस अभियान का मकसद जिले में अवैध रूप से रह रहे विदेशी नागरिकों पर शिकंजा कसना था।



60 विदेशी नागरिक हिरासत में


ऑपरेशन क्लीन-10 के तहत नौ देशों- नाइजीरिया, केन्या, तंजानिया, जाम्बिया, आइवरी, कोस्ट, अंगोला आदि देशों के करीब 320 विदेशी नागरिकों के दस्ताबेज चेक किए गए। जिसमें 260 लोगों के दस्तावेज ठीक पाए थे, जबकि 60 विदेशी नागरिकों के दस्तावेजों में गड़बड़ी पाई गई। इनके पास वीजा नहीं मिला। इनमें 32 पुरुष और 28 विदेश महिलाएं शामिल थीं। सभी को पूछताछ के लिए हिरासत में ले लिया गया।


विदेशी नागरिकों के पास से बरामद चीजें


पकड़े गए विदेशी नागरिकों के पास से 222 बियर की बोतलें और 3.5 किलो गांजा बरामद हुआ हैं। छह लैपटॉप, 114 मोबाइल के सिम कार्ड भी बरामद हुए हैं। कई लोग इनमें आपराधिक गतिविधि में भी लिप्त पाए गए। वहीं, अब अधूरे दस्तावेज के साथ पकड़े गए सभी विदेशी नागरिकों को उनके देश डिपोर्ट कराया जाएगा।


कहां से आया फर्जी वीजा?


पुलिस की जांच में ये समाने आया है कि 17 विदेशी नागरिकों की वीजा की अवधि समाप्त हो चुकी है, जबकि आठ के पास फर्जी वीजा पाया गया। पुलिस इसकी भी जांच कर रही है कि फर्जी वीजा कहां से और किस व्यक्ति ने बनवाया।