फ्रिज से भारी मात्रा में मांस बरामद, पुलिस ने दो आरोपियों को अवैध राइफल और कारतूस के साथ पकड़ा

पुलिस को सूचना मिली कि नूरपुर गांव में दो व्यक्तियों के घरों में रखे फ्रिज में प्रतिबंधित पशुओं का मांस रखा है। पुलिस टीम ने तत्काल छापामारी कर दोनों के घरों से मांस व अवैध राइफल, कारतूस बरामद की है।

By: एबीपी गंगा | Updated: 25 May 2019 01:23 PM
ban animal meat recovered from house in noida

ग्रेटर नोएडा, एबीपी गंगा। जारचा कोतवाली क्षेत्र के नूरपुर गांव में पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर शुक्रवार को दो व्यक्तियों के घर में रखे फ्रिज से भारी मात्रा में मांस बरामद किया है। आरोप है कि बरामद मांस प्रतिबंधित पशु का है। इस मामले में पुलिस ने दोनों लोगों को हिरासत में ले लिया है। पुलिस ने दोनों के पास से अवैध हथियार भी बरामद किए हैं। मामले की संवेदनशीलता को देखते हुए आसपास के सभी कोतवाली से पुलिस बल बुलाकर गांव में तैनात कर दिया है ताकि कोई असामाजिक तत्व माहौल खराब न कर सके।


पुलिस को मिली सूचना
पुलिस ने बताया कि शुक्रवार दोपहर जारचा पुलिस को सूचना मिली कि नूरपुर गांव में दो व्यक्तियों के घरों में रखे फ्रिज में प्रतिबंधित पशुओं का भारी मात्रा में मांस रखा है। पुलिस टीम ने तत्काल छापामारी कर दोनों के घरों से मांस व अवैध राइफल, कारतूस, फ्रीज व परात बरामद की है। पुलिस दोनों आरोपियों को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है। कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए गांव में भारी मात्रा में पुलिस बल तैनात कर दिया गया है।


जेल जा चुका है एक आरोपी
ग्रामीणों ने आरोप लगाया कि हिरासत में लिए गए दोनों लोग रोजाना दो से तीन प्रतिबंधित पशुओं को काटकर मांस की सप्लाई दिल्ली करते थे। आरोप है कि हिरासत में लिया गया एक आरोपी दूसरे आरोपी की पत्नी से छेड़छाड़ के आरोप में पूर्व में जेल भी जा चुका है। पुलिस मामले की जांच कर रही है। पुलिस ने बताया कि पुलिस ने जब्त किए गए मांस को सैंपल जांच के लिए आगरा लैब भेजा गया है।


समय पर सचेत हो गई पुलिस 
ज्ञात हो कि करीब चार वर्ष पहले बिसाहड़ा गांव में गोकशी की सूचना पर भीड़ ने इकलाख के घर पर हमला बोल दिया था। इकलाख की पीट-पीट कर हत्या कर दी थी। उसका बेटा समेत अन्य घायल हो गए थे। इस घटना से बिसाहड़ा देश भर में सुर्खियों में आ गया था। राजनीतिक दलों ने बिसाहड़ा पर जमकर राजनीति की थी। यह मामला आज भी न्यायालय में विचाराधीन है। नूरपुर गांव में मांस मिलने की सूचना मिलते ही पुलिस सजग हो गई और शायद एक बड़ा कांड होने से बच गया।