फिरोजाबाद: बोरे में मिली लाश का हुआ खुलासा, पत्नी ने अपने प्रेमी के साथ मिलकर की थी पति की हत्या

कुछ दिन पहले पुलिस ने बोरे में बंद लाश बरामद की थी। छानबीन के बाद पता चला कि ये लाश महिला की थी। अवैध संबंधों को लेकर पत्नी ने प्रेमी के साथ मिलकर अपने पति की हत्या कर दी थी।

By: एबीपी गंगा | Updated: 12 Jul 2019 05:24 PM
In extra marital affairs wife killed her husband

फिरोजाबाद, एबीपी गंगा। फिरोजाबाद में एक बार फिर रिश्तों को तार तार कर देने वाली घटना सामने आई है। जिस्म की भूख मिटाने को लेकर महिला ने अपने प्रेमी के साथ मिलकर पति की हत्या कर दी, यही नहीं हत्या के बाद अपने पति के शव को नहर में फेंक दिया,और पति की गुमशुदगी का नाटक करने लगी। पुलिस ने मामले की छानबीन के बाद महिला को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है वहीं महिला का प्रेमी अभी फरार है।


मामला फिरोजाबाद के थाना खैरगढ़ के गांव बबाइंन का है। सिरसागंज पुलिस ने आज से 14 दिन पूर्व 27 जून को थाना सिरसागंज क्षेत्र के दुगमई पास से नहर में मिले शव का खुलासा किया है। पुलिस ने इस मामले में जानकारी देते हुये कहा कि दुगमई के पास नहर से बरामद शव की शिनाख्त भूरी सिंह पुत्र तोताराम निवासी बबाइंन थाना खैरगढ़ के रूप में हुई थी।


पुलिस ने पूरे मामले में अज्ञात लोगों के खिलाफ मुकदमा पंजीकृत कर अपनी जांच शुरू कर दी थी। जांच के दौरान पाया गया कि प्रेम संबंधों में बाधा बन रहे भूरी सिंह की हत्या उसकी पत्नी ने अपने प्रेमी के साथ मिलकर कर दी थी, जिसे आज पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। वहीं मृतक की पत्नी अनीता का प्रेमी धर्मवीर पुत्र सुभाष यादव निवासी बबाइंन अभी भी पुलिस की गिरफ्त से बाहर है।


अजय सिंह चौहान सीओ शिकोहाबाद ने जानकारी देते हुये बताया कि थाना खैरगढ़ क्षेत्र में गांव बबाइंन है। वहां का एक व्यक्ति भूरी सिंह का 27 तारीख को सिरसागंज थाना क्षेत्र में नहर के पास एक बोरी में बंद शव मिला था, जिसको निकाला गया तो पता चला कि जिसकी गुमशुदगी थाना खैरगढ़ में लिखी गई है, जिसका नाम भूरी सिंह है। इस घटना में मृतक की पत्नी और उसके प्रेमी का हाथ था जिसके अवैध संबंध थे, जिसमें भूरी सिंह बाधक बन रहा था। वह आने जाने को मना करता था जिससे उन्होंने योजना बनाई कि भूरी सिंह को रास्ते से हटा दिया जाए, जिससे हमारे संबंधों में कोई बाधा ना बने और गला दबाकर उसकी हत्या कर दी और उसके शव को नहर में फेंक दिया।