माता-पिता के निधन के बाद अपने काम को दी अहमियत: राजकुमार राव

राजकुमार राव ने अपने माता-पिता के निधन के बाद अपने काम को ही गुरू माना और उन्होंने खुद को काम में पूरी तरह से डूबा दिया।

By: कोमल गौतम | Updated: 11 Oct 2019 08:33 PM
After the death of parents Rajkumar Rao importance of their work

मुंबई, एंटरटेनमेंट डेस्क। जूम पर आने वाले शो 'बाय इनवाइट ओनली' में उन्होंने अपने माता-पिता को खोने के बारे में बात की। उन्होंने आगे कहा, "मैं इस दुख से काम करने के चलते ही उबर सकता था। मुझे खुशी है कि मैं अपने पिता को 'मेड इन चाइना' फिल्म का ट्रेलर दिखा पाया।"



राजकुमार राव ने कहा कि उनके माता-पिता के निधन के बाद वे दुखी थे और इस दुख से निकलने के लिए उन्होंने खुद को काम में पूरी तरह से डूबा दिया। इसी साल सितंबर में राजकुमार राव के पिता का निधन हो गया। अभिनेता वर्ष 2017 में जब फिल्म 'न्यूटन' की शूटिंग कर रहे थे, तब उनकी माता का निधन हो गया था।



राजकुमार ने कहा, "अभिनेता बनकर मैं उन्हें जितनी खुशी दे सकता था, मैंने दी। मुझे पता है, यदि वे होते, तो उन्होंने मुझे कहा होता कि काम जरूरी है, जाओ और अपना काम करो।"



अपने पिता के बारे में बात करते हुए राजकुमार ने कहा, "मेरे पिता ने मुझे ईमानदारी सिखाई। वे सबसे ईमानदार सरकारी अधिकारी थे। वह उस पोस्ट में थे, जहां से आसानी से बहुत सारा धन कमाया जा सकता था, लेकिन वह अपनी ईमानदारी पर टिके रहे।"