आईटीबीपी में भर्ती के लिये आये युवक की मौत, सीएम ने लिया संज्ञान, मजिस्ट्रेटी जांच के आदेश जारी

आईटीबीपी में भर्ती के लिए आए युवक की मौत के मामले में मुख्यमंत्री रावत ने नैनीताल के जिलाधिकारी को युवक की मृत्यु की मजिस्ट्रेटी जांच के आदेश दिये हैं।

By: एबीपी गंगा | Updated: 20 Aug 2019 07:37 PM
Death of a young man who came for recruitment in ITBP

नैनीताल, एजेंसी। उत्तराखंड में नैनीताल जिले के हल्द्वानी में भारत तिब्बत सीमा पुलिस (आईटीबीपी) में भर्ती के लिये आये एक युवक की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। युवक की मौत मामले को उत्तराखंड सरकार ने गंभीरता से लिया है। घटना का संज्ञान लेते हुए मुख्यमंत्री रावत ने नैनीताल के जिलाधिकारी को युवक की मृत्यु की मजिस्ट्रेटी जांच के आदेश दिये हैं।


प्राप्त जानकारी के अनुसार, उधमसिंह नगर जिले के नानकमत्ता का रहने वाला सूरज सक्सेना आईटीबीपी में भर्ती के लिये 16 अगस्त को हल्द्वानी आया था लेकिन घर नहीं लौटा। इसके बाद उसके परिजनों ने उसकी तलाश करना शुरू की तो उसका शव कल आईटीबीपी के हल्द्वानी स्थित कैंपस की बाड़ के बाहर पडा मिला।



युवक के परिजनों का आरोप है कि आईटीबीपी के जवानों ने उसे कथित तौर पर पीटा और उसकी हत्या कर दी। क्षेत्र के ग्रामीण भी इस घटना को लेकर आक्रोशित हो गये और उन्होंने युवक के परिजनों के साथ दोषियों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर नानकमत्ता से लेकर लालकुंआ तक विभिन्न स्थानों पर विरोध प्रदर्शन किया।


ग्रामीणों का दावा है कि पीड़ित युवक और आईटीबीपी के कैडेटस के बीच किसी बात को लेकर कहासुनी हो गयी जिसके बाद युवक गायब हो गया और घटना के तीन दिन बाद उसका शव बरामद हुआ।



इस बीच देहरादून में जारी एक सरकारी विज्ञप्ति के अनुसार, घटना का संज्ञान लेते हुए मुख्यमंत्री रावत ने नैनीताल के जिलाधिकारी डा.सविन बंसल को इस घटना की मजिस्ट्रेटी जांच के आदेश दे दिये हैं। बंसल ने अपर जिलाधिकारी (प्रशासन), नैनीताल को जांच अधिकारी नामित कर दिया है।