कानपुर में बदमाशों के हौसले बुलंद, दारोगा की पिस्टल छीनकर किया फायर, तीन गिरफ्तार

बजरिया व चमनगंज में लुटेरों ने चेकिंग कर रही पुलिस टीम पर फायरिंग की। जवाबी कार्रवाई में लाडले समेत तीनों बदमाशों के पैर में गोली लगी और उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया।

By: एबीपी गंगा | Updated: 03 Jun 2019 08:38 PM
Three Criminal arrested after encounter with Police in kanpur

कानपुर, एबीपी गंगा। शहर के अलग-अलग थानाक्षेत्रों में तीन शातिर बदमाशों की देर रात पुलिस से मुठभेड़ हो गई। चकेरी में लुटेरे मो. रहमान उर्फ लाडले ने दारोगा की पिस्टल छीनकर पुलिस पर ही फायर कर दिया। वहीं बजरिया व चमनगंज में लुटेरों ने चेकिंग कर रही पुलिस टीम पर फायरिंग की। जवाबी कार्रवाई में लाडले समेत तीनों बदमाशों के पैर में गोली लगी और उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया।


चौकी प्रभारी की छीनी पिस्टल


चकेरी इंस्पेक्टर रणजीत राय के मुताबिक लूट के दो मामलों में नाजिरबाग बेकनगंज निवासी अजमेरी व हलीम कॉलेज के पास रहने वाले मो. रहमान उर्फ लाडले बिहारी को रविवार रात गिरफ्तार किया गया था। लाडले को लेकर हत्या के एक मामले में घटनास्थल देखने गए तो एचएएल गेट के पास वह चौकी प्रभारी की पिस्टल छीनकर भागने लगा। ललकारने पर फायर किया। जवाबी फायरिंग में उसके दाहिने पैर में गोली लगी और वह पकड़ा गया। सीओ कैंट ने बताया कि लाडले पर लूट, हत्या, गैंगस्टर एक्ट, छिनैती के करीब 15 मुकदमे हैं।


बदमाश के पैर में लगी गोली 


वहीं बजरिया में टूटी मस्जिद चौराहे के पास लुटेरों की सूचना पर पुलिस चेकिंग कर रही थी। देर रात तीन बजे 80 फीट रोड से आ रहे बाइक सवार एक युवक को रोकने की कोशिश की तो वह बाइक मोड़कर भागने लगा। पुलिस ने दूसरी ओर से घेराबंदी की तो उसने तमंचे से फायरिंग  शुरू कर दी। जवाबी कार्रवाई में उसके भी पैर में गोली लगी।


रहा है आपराधिक रिकॉर्ड 


पुलिस के मुताबिक आरोपी इलाके का ही लुटेरा सनी गुप्ता उर्फ सैनी उर्फ आयुष है। उस पर लूट, चोरी के मुकदमे हैं। देर रात ही करीब सवा तीन बजे पुलिस टीम प्रेमनगर चौराहे पर चेकिंग कर रही थी। तकिया पार्क की ओर से आ रहे बाइक सवार दो युवकों को रोकने की कोशिश की तो वह बाइक मोड़कर पार्क में घुस गए। पीछा करने पर पेड़ के पीछे छिपकर उन्होंने पुलिस पर फायरिंग की। जवाबी कार्रवाई में एक बदमाश के पैर में गोली लगी, दूसरा फरार हो गया। घायल बदमाश ने अपना नाम विनायकपुर निवासी सुनील उर्फ बाबू कांडा बताया। थाना प्रभारी के मुताबिक बाबू पर लूट सात मुकदमे हैं।