मुजफ्फरनगर: लूटपाट का विरोध करने पर बदमाशों ने आश्रम के स्वामी को पीटा, हालत नाजुक

मुजफ्फरनगर में बदमाशों ने खौफनाक वारदात को अंजाम दिया है। बदमाशों ने लूटपाट का विरोध करने पर तपोवन धाम के महंत स्वामी भजनानंद महाराज की जमकर पिटाई की।

By: एबीपी गंगा | Updated: 11 Sep 2019 04:51 PM
goons Attack on swami bhajananand at his ashram in muzaffarnagar

मुजफ्फरनगर, एजेंसी। उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर जिले के एक आश्रम में छह अज्ञात लोगों ने घुसकर 70 वर्षीय पुजारी पर हमला किया और लूटपाट करने के बाद फरार हो गए। थाना प्रभारी एमएस गिल ने बताया कि भोपा थाने के शुक्रताल इलाके में तपोवन धाम के महंत स्वामी भजनानंद महाराज इस वारदात में गंभीर रूप से घायल हो गए हैं। पुजारी को अस्पताल ले जाया गया जहां उनका इलाज चल रहा है।


गिल ने कहा कि अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है और उनकी तलाश जारी है। जिले के साधुओं और भाजपा नेताओं ने घटना की कड़ी निंदा की है और अपराधियों को तुरंत गिरफ्तार करने की मांग की है। बदमाशों की तलाश की जा रही है और बहुत जल्द उन्हें गिरफ्तार कर लिया जाएगा।



बता दें कि स्वामी भजनानंद (70) पूर्व सैनिक हैं। सेना से सेवानिवृत्त होने पर करीब 20 साल पूर्व शुक्रताल-फिरोजपुर मार्ग पर स्वामी भजनानंद ने तपोवन योग आश्रम स्थापित कर लिया था। भजनानंद के भतीजे सहदेव सिंह ने भोपा थाने में तहरीर देते हुए बताया कि मंगलवार तड़के करीब ढाई-तीन बजे कुछ बदमाश आश्रम की दीवार पर की गई तारबंदी को काटकर भीतर घुस गए और आश्रम की बिजली सप्लाई काट दी। बदमाशों ने अंदर पहुंचकर आश्रम में सोए भजनानंद को घेर लिया और नींद से जगाकर उनसे रुपयों की मांग की।


रुपये नहीं होने पर बदमाशों ने स्वामी से हाथापाई की। इसमें एक बदमाश की अंगुली स्वामी भजनानंद के मुंह में आ गई, जिसे उन्होंने दांतों से चबा लिया। इससे गुस्साए बदमाशों ने स्वामी को नीचे गिराकर बुरी तरह से पीटना शुरू कर दिया। बेरहमी से की गई पिटाई से स्वामी के सिर व चेहरे के साथ ही पैरों में भी गंभीर चोटें आईं हैं।



घायल स्वामी किसी तरह घिसटते हुए करीब सौ मीटर दूर आश्रम के मुख्य द्वार पर पहुंचे और शोर मचाया, जिसे सुनकर आसपास के ग्रामीण मौके पर पहुंचे और पुलिस कंट्रोल रूम को घटना की जानकारी दी। स्वामी पर हमले की सूचना मिलते ही डायल-100 के साथ ही सीओ राममोहन शर्मा, इंस्पेक्टर भोपा एमएस गिल पुलिस टीम के साथ मौके पर पहुंचे और घायल स्वामी को मोरना पीएचसी भेजा।