पिता ने 20 दिन की जुड़वां बेटियों को तालाब में फेंका, दोनों की मौत

मुजफ्फरनगर में एक पिता ने अपनी 20 दिन की जुड़वां बेटियों को तालाब में फेंक दिया। दोनों की मौत हो गई है।

By: एबीपी गंगा | Updated: 23 Sep 2019 03:48 PM
father threw his 20 day old twin daughters into a pond both killed in Muzaffarnagar

मुज्जफरनगर, (आईएएनएस)। मुजफ्फरनगर के भिक्की गांव में एक चौंकाने वाली घटना सामने आई है। एक पिता ने अपनी 20 दिन की जुड़वां बेटियों को एक तालाब में फेंक दिया, जिससे दोनों की मौत हो गई। पिता का कहना है कि वह गरीब है और दोनों लड़कियों का खर्च नहीं उठा सकता था। रविवार को हुई घटना के बाद जुड़वा बेटियों के पिता वसीम और मां नजमा को गिरफ्तार कर लिया गया है।


वसीम मजदूरी करता है और उसे एक सात साल का बेटा भी है। वसीम ने पुलिस को बताया कि उसकी आर्थिक स्थिति खराब है और वह दो बेटियों का खर्च नहीं उठा सकता था। एसएचओ अजय कुमार ने कहा कि दंपति का रविवार को झगड़ा हुआ था, जिसके बाद उन्होंने अपनी बच्ची आफरीन और आफिया को उनके घर के पास एक तालाब में फेंक दिया।


वसीम ने पुलिस को गुमराह करने की कोशिश भी की। उसने पुलिस में मामला दर्ज कराकर कहा कि उनकी बेटियां लापता हो गई हैं। इसके बाद गांव के लोगों ने पुलिस को बताया कि वसीम दो बेटियों के जन्म से खुश नहीं था और अपनी पत्नी के साथ लड़ाई करता था।

एसएचओ ने कहा कि जांच के बाद पता चला कि जुड़वा बहनों को माता-पिता ने खुद ही मार डाला था। उन्होंने कहा, 'दंपत्ति ने भी अपराध कबूल कर लिया है।' उन्होंने कहा, 'उनपर भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) की धारा-302 (हत्या) और 201 (अपराध के सबूतों को मिटाने और गलत जानकारी देने) के तहत मामला दर्ज किया गया है।'


यह भी पढ़ें:


भाजपा के बड़बोले विधायक के बिगड़े बोल, पंडित नेहरू पर की अपमानजनक टिप्पणी


गिरफ्त में इंटरनेशनल ठग, सपनों की करते थे सौदेबाजी | High Alert | ABP Ganga


मुजफ्फरनगर: लूटपाट का विरोध करने पर बदमाशों ने आश्रम के स्वामी को पीटा, हालत नाजुक