महिला दरोगा की निर्मम हत्या, पुलिस लाइन में बने सरकारी आवास में हुई हत्या

उत्तर प्रदेश में खाकी भी सुरक्षित नहीं रह गए है। ताजा मामला बरेली का है जहां एक महिला दरोगा की सिर कुचलकर निर्मम हत्या कर दी गई। महिला दरोगा की हत्या पुलिस लाइन में बने सरकारी आवास में हुई। दरोगा की हत्या से पुलिस महकमे में हड़कंप मचा हुआ है।

By: एबीपी गंगा | Updated: 29 May 2019 09:30 AM
Police woman murdered in his apartment

एबीपी गंगा, खून से लथपथ जमीन पर पड़ी लाश। छानबीन करती हुई पुलिस का ये नजारा शहर कोतवाली थाना क्षेत्र के पुलिस लाइन में बने सरकारी आवास का है। जहां रीना कुमारी नाम की सब इंस्पेक्टर की हत्या कर दी गई। महिला दरोगा की हत्या की खबर से पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया। आपको बता दे जिस जगह हत्या हुई है वो सबसे सुरक्षित जगह मानी जाती है। उस जगह पर बस सभी पुलिसकर्मी ही रहते है। ऐसे में बड़ा सवाल आखिर कौन है जो पुलिस लाइन में घुसकर पुलिस को खुली चुनौती दे गया। इस हत्याकांड को अंजाम दे गया। दरोगा के कमरे का सारा सामान बिखरा पड़ा हुआ था। ऐसा लगता है की हत्या से पहले रीना ने हत्यारो से संघर्ष किया जिस वजह से कुर्सियां भी गिरी पड़ी हुई थी। इसके आलावा मृतका महिला दरोगा के दूसरे कमरे का भी सारा सामान बिखरा पड़ा हुआ था। ऐसा लगता है की किसी ने पहले महिला दरोगा की हत्या की और फिर लूट की घटना को अंजाम दिया या फिर पुलिस का ध्यान डाइवर्ट करने के लिए सामान को इधर उधर बिखेरा गया है। मृतका के कमरे में रखे कागज भी बिखरे पड़े हुए थे।


जानें क्या है पूरा मामला?


महिला दरोगा रीना कुमारी की हत्या की खबर लगते ही मौके पर एसएसपी मुनिराज, एसपी सिटी, एसपी ग्रामीण, एसपी क्राइम, फोरेंसिक टीम समेत कई थानों की पुलिस पहुंची और घर की तलाशी ली। एसएसपी ने बताया की शव देखकर लगता है की महिला दरोगा का पहले गला रेता गया और फिर सिर कुचलकर उसकी हत्या की गई है। एसएसपी ने घटना के खुलासे के लिए एसपी सिटी अभिनन्दन सिंह और एसपी क्राइम रमेश कुमार भारतीय के नेतर्त्व में दो टीमों का गठन किया है। उनका कहना है की रीना कुमारी अपने लड़के के साथ अकेले रहती थी। उनका पीटीआई से शादी के दो साल बाद ही तलाक़ हो गया था। लड़के की उम्र करीब पंद्रह साल बताई जा रही है। बताया जा रहा है की लड़के का कही बाहर एडमिशन हुआ है और तीन दिन से एसआई रीना कुमारी घर पर अकेले ही थी। एसएसपी ने भी बताया की रात करीब साढ़े ग्यारह बजे उन्हें सुचना मिली जिसके बाद वो मौके पर पहुंचे। कमरा खुला हुआ था। रीना कुमारी एसपी रीजनल ऑफिस इंटेलिजेंस में तैनात थी और कुछ दिनों से मेडिकल लीव पर थी। उनका कहना है की 99 परसेंट ऐसा लगता है की घटना लूट के लिए नहीं की गई है। हत्यकांड में कोई करीबी ही शामिल हो सकता है। पुलिस जल्द से जल्द इस केस का खुलासा कर देगी। रीना कुमारी इंटेलिजेंस में दरोगा थी और पिछले ढाई साल से पुलिस लाइन में बने सरकारी आवास में रह रही थी। मृतका एसआई का मोबाइल भी गायब है। फिलहाल पुलिस सभी एंगेल से मामले की छानबीन करने में जुटी हुई है।