शाहजहांपुर: प्राथमिक स्कूल में दूध पीने से दो दर्जन से अधिक बच्चे बीमार

उत्तर प्रदेश में प्राथमिक विद्यालय में लापरवाही का मामला फिर सामने आया है। इस बार शाहजहांपुर के एक प्राथमिक विद्यालय में बच्चों को दूध वितरण के बाद करीब दो दर्जन बच्चें बीमार पड़ गये उन्हें उल्टी की शिकायत हुई। इसके मौके पर पहुंचे आला अधिकारियों ने स्कूल प्रशासन के खिलाफ कार्रवाई के निर्देश दिये।

By: एबीपी गंगा | Updated: 29 Aug 2019 07:43 PM
More than 20 chidren fell sick shahjahanpur after taking milk

शाहजहांपुर, एबीपी गंगा। उत्तर प्रदेश के शाहजहांपुर में प्राथमिक स्कूल में दूध पीने से दो दर्जन से अधिक बच्चे बीमार हो गए जिन्हें प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया गया। जहां उनका इलाज चल रहा है, घटना की सूचना पाकर प्रशासनिक अधिकारी मौके पर पहुंच गए और उन्होंने जाकर स्कूली बच्चों से पूछताछ की। इस मामले में दोषी पाए जाने पर दोषियों के विरुद्ध कार्रवाई का आश्वासन दिया है।


शाहजहांपुर के पुवायां अंतर्गत बहलोलपुर प्राथमिक पाठशाला में दूध वितरण के दौरान दूध पीने से आंगनवाड़ी समेत स्कूल के लगभग दो दर्जन से अधिक बच्चे घर पहुंचने के बाद बीमार हो गए। बच्चों को उल्टियां शुरू हो गई। जब गांव में अधिकतम बच्चों के बीमार होने की खबर फैली तो आनन-फानन में 108 वाहन से उन्हें अस्पताल ले जाया गया। जहां उनका इलाज किया गया। इस दौरान तहसीलदार व बीईओ ने सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पहुंचकर उचित इलाज के निर्देश दिए साथ ही जांच कर कार्रवाई कराने का आश्वासन दिया।


क्षेत्र के गांव बहलोलपुर में शाम लगभग चार बजे हंगामा मच गया जब गांव के अधिकतर बच्चों को उल्टियां आने की खबर फैली। आनन-फानन में एंबुलेंस को बुलाकर गांव के 2 दर्जन से अधिक बच्चों को अस्पताल भिजवाया गया जहां उनका इलाज किया गया। परिजनों के अनुसार बीमार बच्चे गांव के प्राथमिक विद्यालय व आंगनवाड़ी के हैं। सभी बच्चों ने स्कूल में दूध पिया था। जिसके लगभग डेढ़-दो घंटे बाद बच्चों को उल्टियां आनी शुरू हो गई। परिजनों का आरोप है कि गांव में लगने वाला आंगनवाड़ी केंद्र महीने में एकाध बार ही खुलता है, जिस कारण उसके अधिकतर बच्चे प्राथमिक विद्यालय में ही पढ़ने जाते हैं यही कारण है कि बीमार बच्चों में आंगनवाड़ी केंद्र के भी बच्चे हैं।


इतनी अधिक संख्या में बच्चों की बीमारी की सूचना पाकर तहसीलदार प्रभाकर त्रिपाठी अस्पताल पहुंचे। जहां उन्होंने बच्चों के उचित इलाज के दिशा निर्देश दिए। कुछ ही देर बाद शाहजहांपुर से बीईओ शत्रुघ्न सरोज भी अस्पताल पहुंचे तथा उन्होंने प्राथमिक विद्यालय के शिक्षक को तलब करते हुए कार्रवाई के निर्देश दिए।