झगड़े के बाद दोस्त के भाई ने युवक को किया अगवा, पुलिस को नहीं मिला सुराग

वीरेश के साथ रहे मनोज ने बीच बचाव किया तो आशीष ने उसे भी मारापीटा और जबरन अपनी कार में बैठा कर अपहरण कर लिया। बुधवार रात से गुरुवार शाम तक दोनों का पता नहीं चला था।

By: एबीपी गंगा | Updated: 14 Jun 2019 01:15 PM
youth kidnap from ayodhya civil lines area

अयोध्या, एबीपी गंगा। कोतवाली नगर क्षेत्र के सिविल लाइंस इलाके से एक युवक के अपहरण का मामला सामने आया है। घटना बुधवार देर रात की है। गुरुवार शाम तक अपहृत युवक का पता न चलने पर नाराज परिजन कोतवाली पहुंच गए। परिजनों के साथ बड़ी संख्या में अपहृत युवक के करीबी भी शामिल रहे। वारदात को लेकर अपहृत युवक के परिवार में जहां कोहराम मचा है, वहीं लोगों में आक्रोश दिखा।


अपहरण व मारपीट का मुकदमा दर्ज


पीड़ित परिवार की तहरीर पर पुलिस ने लक्ष्मणपुरी कॉलोनी निवासी आशीष सिंह के खिलाफ अपहरण व मारपीट का मुकदमा दर्ज किया है। युवक को बरामद करने के लिए सीओ अरविद चौरसिया के नेतृत्व में टीम छापेमारी कर रही है।


भाइयों के बीच हुआ झगड़ा


धारा रोड निवासी राघवेंद्र शुक्ला का आरोप है कि उनका भाई मनोज शुक्ला बुधवार की रात आरोपी आशीष सिंह के भाई वीरेश के साथ सिविल लाइंस एक होटल में खाना खाने आया था। खाना खाकर होटल से बाहर निकलने के बाद वीरेश ने फोन पर अपने भाई आशीष से किसी बात को लेकर झगड़ा किया। फोन कटने के कुछ ही देर बाद आशीष मौके पर पहुंच गया और अपने भाई को पीटने लगा।


जबरन कार में बिठाया


वीरेश के साथ रहे मनोज ने बीच बचाव किया तो आशीष ने उसे भी मारापीटा और जबरन अपनी कार में बैठा कर अपहरण कर लिया। बुधवार रात से गुरुवार शाम तक दोनों का पता नहीं चला था। पुलिस आशीष के घर भी गई, लेकिन वहां अपहृत नहीं मिला। सीओ सिटी का कहना है कि मुकदमा दर्ज कर बरामदगी के लिए प्रयास किया जा रहा है।