यूपी के 39 जिलों में मूसलाधार बारिश की चेतावनी, मौसम विभाग ने जारी किया अलर्ट...रहें सतर्क

बारिश के दौरान लोगों को सुरक्षित स्थान पर रहने के लिए अलर्ट किया गया है। भारत सरकार के प्रति विज्ञान मंत्रालय और मौसम विभाग ने यूपी के रिलीफ कमिश्नर, ऑल इंडिया रेडियो, दूरदर्शन और रीजनल मौसम पूर्वानुमान केंद्र को सचेत रहने के लिए आगाह किया है।

By: एबीपी गंगा | Updated: 12 Jul 2019 01:22 PM
weather department alert heavy rain in uttar pradesh

गोरखपुर, एबीपी गंगा। यूपी के 39 जिलों में मूसलाधार बारिश की चेतावनी जारी की गई है। मौसम विभाग ने अलर्ट जारी किया है कि पूर्वी और पश्चिमी यूपी के कई जिलों में भारी बारिश हो सकती है। बारिश को देखते हुए जिलों से संबंधित अधिकारियों को यह निर्देश दिए गए हैं कि लोगों को इस बात से पहले ही अवगत कराया जाए कि बारिश के दौरान अधिक सचेत रहने की जरूरत है।


भारी बारिश की चेतावनी


भारत सरकार के पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय मौसम विभाग और राज्य मौसम पूर्वानुमान केंद्र की ओर से अलर्ट जारी किया गया। इसमें 10 जुलाई से 13 जुलाई तक मूसलाधार बारिश की चेतावनी दी गई है। यूपी के 39 जिलों के जिलाधिकारी को लोगों को अलर्ट करने के लिए कहा गया है। यूपी के गोरखपुर, कुशीनगर, देवरिया, संतकबीरनगर, महाराजगंज, सिद्धार्थनगर, बस्ती, अंबेडकरनगर, आजमगढ़, गाजीपुर, जौनपुर, प्रतापगढ़, संतरविदासनगर, सुल्तानपुर, सीतापुर, पीलीभीत, प्रयागराज, चंदौली, वाराणसी, कौशांबी, मऊनाथभंजन, फैजाबाद, रायबरेली, गोंडा, बलरामपुर, श्रावस्ती, बहराइच, खीरी, रामपुर, मुरादाबाद, बिजनौर, बांदा, चित्रकूट, फतेहपुर, हमीरपुर, जालौन और झांसी जिले में भारी से भारी बारिश की चेतावनी है।



अलर्ट जारी


बारिश के दौरान लोगों को सुरक्षित स्थान पर रहने के लिए अलर्ट किया गया है। भारत सरकार के प्रति विज्ञान मंत्रालय और मौसम विभाग ने यूपी के रिलीफ कमिश्नर, ऑल इंडिया रेडियो, दूरदर्शन और रीजनल मौसम पूर्वानुमान केंद्र को सचेत रहने के लिए आगाह किया है। पड़ोसी देश नेपाल और उत्तराखंड के पहाड़ी इलाकों में पहाड़ों पर हो रही बारिश ने मैदानी इलाकों में भी असर दिखाया है। पिछले 4 दिनों से हो रही लगातार बारिश ने नदियों का जलस्तर भी बढ़ा दिया है। कई जिलों में बाढ़ की संभावनाओं को देखते हुए प्रशासनिक अधिकारी बैठक भी कर रहे हैं।



बढ़ सकती है आम लोगों की परेशानी


चार दिन तक मूसलाधार बारिश की चेतावनी ने एक बार फिर लोगों की परेशानी बढ़ा दी है। भारी बारिश से जहां लोगों को घरों से बाहर निकलने में परेशानी होगी तो वहीं नौकरी, बिजनेस और स्कूल जाने वाले बच्चों के लिए भी ये बारिश परेशानी का सबब बन सकती है।