मुलायम की सुलह की कोशिश फेल, 2022 विधानसभा चुनाव अकेले लड़ेंगे शिवपाल

प्रगितशील समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष शिवपाल यादव ने 2022 का विधानसभा चुनाव अकेले लड़ने का ऐलान किया है। उन्होंने सपा में घर वापसी की खबरों का खंडन करते हुए कहा कि उनकी पार्टी अकेले अपने दम पर सरकार बनाएगी।

By: एबीपी गंगा | Updated: 14 Jun 2019 01:44 PM
Shivpal yadav announced to contest vidhan sabha election 2022 alone mulayam akhilesh

लखनऊ, एबीपी गंगा। आखिरकार एक बार फिर मुलायम सिंह यादव की पारिवारिक कलह खत्म करने की कोशिश नाकामयाब रही। शिवपाल यादव ने अपने घर वापसी की खबरों पर पूर्ण विराम लगाते हुए 2022 का विधानसभा चुनाव अकेले लड़ने का ऐलान कर दिया है। प्रगितशील समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष शिवपाल यादव ने आज प्रेस कॉन्फ्रेंस कर ये घोषणा की कि उनकी पार्टी अकेले चुनाव लड़ेंगी और अपने दम पर सरकार बनाएगी।


विलय की कोई संभावना नहीं : शिवपाल 


उन्होंने स्पष्ट कहा कि उनकी पार्टी का किसी भी राजनीतिक दल के साथ विलय की कोई संभावना नहीं है। उन्होंने कहा कि लोकसभा चुनावों के बाद 10-13 जून तक हमारी मैराथन समीक्षा बैठक चली है और हमने तय किया है कि आगामी विधानसभा चुनाव हम अकेले लड़ेंगे। वे बोले कि हम चुनाव से पहले संगठन को मजबूत करने के काम करेंगे, ताकि अपने दम पर प्रसपा सरकार बना सकें। ऐसी स्थिति में किसी भी राजनीतिक दल में हमारी पार्टी के विलय की कोई संभावना नहीं हैं।


इशारों में मायावती पर साधा निशाना 


हालांकि, उपचुनाव को लेकर पूछे गए सवाल पर उन्होंने कहा कि अभी इस बारे में कुछ तय नहीं हुआ है। उन्होंने यह भी कहा कि नेता जी से अभी कोई बात नहीं हुई है। इस दौरान बीएसपी सुप्रीमो मायावती का नाम लिए बैगर उनपर निशाना साधते हुए शिवपाल ने कहा कि उनको हमारी ताकत का पता चल गया, पहले तो हमने कहा था कि गठबंधन में हमें शामिल कर लो तब तो किया नहीं।


योगी की तारीफ, मंत्रियों पर आरोप


इस दौरान सूबे के मुख्यमंत्री की तारीफ करते हुए शिवपाल ने कहा कि योगी जी मेहनती और ईमानदार हैं, लेकिन नौकरशाही केवल AC कमरों में बैठकर नहीं होती, भ्रष्टाचार हो रहा है। मुख्यमंत्री को छोड़ कर सभी मंत्री भी भ्रष्टाचार कर रहे हैं।



मुलायम की सुलह की कोशिश फेल


गौरतलब है कि लोकसभा चुनाव में समाजवादी पार्टी को मिली करारी हार के बाद कहा जा रहा था कि मुलायम सिंह यादव पारिवारिक कलह को खत्म कर शिवपाल की पार्टी में वापसी की कोशिश में जुटे हैं। हाल ही में मुलायम सिंह का हालचाल लेने उनके आवास पर मुख्यमंत्री योगी पहुंचे थे। स दौरान वहां शिवपाल और अखिलेश दोनों मौजूद थे। जानकारी के मुताबिक, योगी के जाने के बाद बंद कमरे में करीब आंधे घंटे तक मुलायम सिंह ने शिवपाल और अखिलेश यादव से बात की थी। जिसके बाद से राजनीतिक कयास लगाए जाने लगे थे कि क्या शिवपाल की घर वापसी हो सकती है? हालांकि उन्होंने आज स्पष्ट कर दिया कि गठबंधन के मूड में नहीं हैं।