राज्यपाल राम नाईक से मिलने के बोले अखिलेश- जिस दिन CM मीटिंग करते, उस दिन होता और बड़ा अपराध

सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने आज यूपी के राज्यपाल राम नाईक से मुलाकात कर प्रदेश की खराब कानून व्यवस्था को लेकर ज्ञापन सौंपा। राज्यपाल से मुलाकात के बाद अखिलेश ने सूबे की योगी सरकार को भी निशाने पर लिया।

By: एबीपी गंगा | Updated: 15 Jun 2019 01:25 PM
Samajwadi Party president Akhilesh Yadav meets Governor Ram Naik over law and order situation in UP

लखनऊ, एबीपी गंगा। यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री और समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने आज सूबे के राज्यपाल राम नाईक से मुलाकात की। इस दौरान उन्होंने राज्य में खराब कानून व्यवस्था समेत कई मु्द्दों को लेकर राज्यपाल को ज्ञापन भी सौंपा।


योगी सरकार पर साधा निशाना
राज्यपाल से मिलने के बाद अखिलेश ने योगी सरकार को निशाने पर लेते हुए कहा कि अपराधियों को जहां जेल में होना चाहिए, वहां वे खुले घूम रहे हैं। महिलाओं और बेटियों के साथ ऐसा कभी नहीं हुआ होगा, जैसा इस सरकार में हो रहा है। उन्होंने कहा कि प्रदेशभर में शर्मनाक घटनाएं हो रही हैं, लेकिन सरकार हाथ पर हाथ रखकर बैठी है।


'आपराधिक घटनाओं के लिए सरकार जिम्मेदार'
मुख्यमंत्री का घेराव करते हुए उन्होंने कहा कि जिस दिन CM मीटिंग करते तब और बड़े पैमाने पर घटनाएं होती हैं। अपराधी खुले आम अपराध कर रहे होते हैं। उन्होंने कहा, 'वकील के चैम्बर में आर्म्स जा रहे, अधिवक्ता की हत्या हो जाती है। इन सभी घटनाओं के लिए सरकार जिम्मेदार है। सरकार ने अपराधियों को खुली छूट दी है।'


राज्यपाल इस सरकार को जगाएं : अखिलेश
अखिलेश ने कहा कि पहले एक बात राज्यपाल की तरफ से आती थी कि पूरे प्रदेश में सब यादव अधिकारी हैं, लेकिन आज एक भी यादव डीएम एसएसपी नहीं है। मैं राज्यपाल जी को याद दिलाना चाहता हूं कि जिस तरह राज्यपाल ने हमेशा सरकार को जगाया, इस सरकार को भी जगाएं।


आजम खान का किया बचाव
आजम खान का बचाव करते हुए उन्होंने कहा कि उनपर झूठे मुकदमे लगाकर करवाई की जा रही है। प्रशासनिक स्तर से भी बिना वजह गलत परेशान किया जा रहा है। हमें उम्मीद है राज्यपाल सरकार को निर्देश देकर जगायेंगे। प्रदेश में जंगल राज को नियंत्रण में लाना होगा।


केशव प्रसाद मौर्य का बयान
यूपी के डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य ने अखिलेश को निशाने पर लेते हुए कहा कि वे निराश और हताश हैं, क्योंकि बुआ ने उनका साथ छोड़ दिया है, इसलिए उनको कुछ समझ में नहीं आ रहा है। उत्तर प्रदेश की कानून व्यवस्था बहुत अच्छी है, सुद्रण है। उत्तर प्रदेश में अपराधी या तो जेल के अंदर हैं या तो अपराध करने से डर रहे हैं। अपराधी प्रदेश से भाग रहे हैं। अपराधी इतने खौफ में हैं कि वह अपनी जमानत कैंसिल करा कर जेल के अंदर रहना चाहते हैं। अखिलेश यादव दर्द में हैं, वो बेचैनी में इस तरह बोल रहे हैं।अब तो समाजवादी पार्टी को संभाले के लिए उनके चाचा ने भी अस्वीकार कर दिया है, इसलिए वो निराश और हताश है। उन्होंने कहा कि राज्यपाल महोदय के निर्देशन में सरकार अच्छा काम कर रही है।