यूपी बोर्ड परीक्षाओं का कैलेंडर जारी, अब 18 फरवरी से शुरू होंगी बोर्ड परीक्षाएं

यूपी बोर्ड परीक्षाओं के कार्यक्रम में सरकार ने बड़े बदलाव किये हैं। ये परीक्षा पहले लंबे दौर तक चलती थी। लेकिन अब इन परीक्षाओं 18 फरवरी से शुरू होंगी। साथ ही परीक्षा परिणाम भी जल्द आयेगा।

By: एबीपी गंगा | Updated: 02 Jul 2019 11:41 AM
Calender of UP Board exam has been issued

लखनऊ, एबीपी गंगा। विश्व के सबसे बड़े बोर्ड यूपी बोर्ड की परीक्षाएं 2020 में 18 फरवरी से शुरू होंगी। यूपी बोर्ड के इतिहास में ऐसा पहली बार है जब स्कूल खुलने के दिन 1 जुलाई को ही बोर्ड परीक्षाओं का टाइम टेबल भी जारी कर दिया गया। 10वीं और 12वीं दोनों में ही पहला पेपर हिंदी का होगा।


3 मार्च से 10वीं और 6 मार्च से 12वीं की परीक्षाएं
हाई स्कूल की परीक्षाएं 3 मार्च तक और इंटर की 6 मार्च तक चलेंगी। इस तरह हाई स्कूल की परीक्षाएं 12 जबकि इंटर की 15 कार्यदिवस में ख़त्म होंगी। 2019 की बात करें तो यूपी बोर्ड की परीक्षाएं 7 फरवरी से शुरू हुई थीं। तब हाई स्कूल की परीक्षाएं 14 जबकि इंटर की 16 दिन चली थीं। डिप्टी सीएम डॉ. दिनेश शर्मा ने कहा की सर्दी में छात्र छात्राओं को दिक्कत न हो इसीलिए परीक्षाएं 18 फरवरी से कराने का फैसला लिया गया है। हालांकि रिजल्ट 2019 के मुकाबले पहले आएगा।


20 से 25 अप्रैल के बीच जारी होगा रिजल्ट
यूपी बोर्ड की स्कीम को वेबसाइट upmsp.edu.in पर जारी कर दिया गया है। 2020 में 10वीं और 12वीं में करीब 55 लाख छात्र छात्राएं शामिल होंगे। परीक्षाओं के बाद 15 से 25 मार्च के बीच सिर्फ 10 दिन में मूल्यांकन कराते हुए 20 से 25 अप्रैल के बीच रिजल्ट जारी कर दिया जायेगा।


नकल रोकने के लिए खास इंतजाम
नकल रोकने के लिए इस बार 'बी' आंसर शीट पर भी क्रमांक लिखा होगा। इसके अलावा हाई स्कूल और इंटर में ए और बी दोनों ही तरह की सभी आंसर शीट पर अलग अलग कलर की लाइनिंग भी होगी। इससे कॉपियों में हेर फेर नहीं हो पायेगी। वहीं पहले की तरह ही परीक्षा कक्ष में 2-2 CCTV कैमरों और वॉइस रिकॉर्डर की भी व्यवस्था रहेगी।


हिंदी, इंग्लिश दोनों में मिलेगा सर्टिफिकेट
हाई कोर्ट के आदेश पर 2020 से यूपी बोर्ड के छात्र छात्राओं को दो भाषाओं में सर्टिफिकेट कम मार्कशीट दिए जायेंगे।


यूपी बोर्ड का शैक्षिक कैलेंडर भी जारी:
कक्षा 9 से 12 तक की कक्षाओं में मंथली कोर्स का विभाजन भी किया गया है। कौन सा चैप्टर किस महीने में पढ़ाया जायेगा ये पहले से तय कर दिया गया है। शैक्षिक सत्र में 200 से अधिक दिन की पढ़ाई कराई जायेगी।


यूनिवर्सिटी का शैक्षिक कैलेंडर भी जारी
डिप्टी सीएम डॉ. शर्मा ने बताया की यूनिवर्सिटी और कॉलेजों के लिए भी शैक्षिक कैलेंडर बनाया गया है। 5 जुलाई से सभी यूनिवर्सिटी और कॉलेज खुलेंगे। पोस्ट ग्रेजुएशन को छोड़कर अन्य सभी कक्षाएं 10 जुलाई से शुरू हो जाएँगी। पोस्ट ग्रेजुएशन की क्लासेज 16 जुलाई से शुरू होंगी। 15 जनवरी से 15 फरवरी के बीच प्रैक्टिकल जबकि 5 मार्च से 30 अप्रैल तक मुख्य परीक्षाएं होंगी। 5 जून तक सभी रिजल्ट घोषित कर दिए जायेंगे।


डिप्टी सीएम खुद लेंगे यूनिवर्सिटी में क्लास
इस बार डिप्टी सीएम डॉ. दिनेश शर्मा 9 जुलाई को खुद लखनऊ विश्वविद्यालय में क्लास भी लेंगे। डॉ. शर्मा विश्वविद्यालय में कॉमर्स विभाग के शिक्षक हैं।