ममता बनर्जी पर साक्षी महाराज का विवादित बयान, कहा- कहीं हिरण्यकश्यप के खानदान की तो नहीं

बीजेपी सांसद साक्षी महाराज ने पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को लेकर विवादित बयान दिया है। उन्होंने जय श्री राम के नारे पर ममता की नाराजगी पर तंज करते हुए कहा कि कहीं वे हिरण्यकश्यप के खानदान की तो नहीं हैं।

By: एबीपी गंगा | Updated: 02 Jun 2019 01:09 PM
BJP MP Sakshi Maharaj controversial statement on west bengal CM mamata banerjee

हरिद्वार, एबीपी गंगा। तृणमूल कांग्रेस और बीजेपी के बीच तनाव बढ़ता जा रहा है। टीएमसी चीफ और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को 'जय श्री राम' लिखे 10 लाख पोस्टकार्ड भेजने के फैसले के बीच बीजेपी सांसद साक्षी महाराज का एक विवादित बयान सामने आया है। जिसमें उन्होंने ममता की तुलना त्रेता युग के हिरण्यकश्यप से की है। ममता बनर्जी को लेकर विवादित बयान देते हुए उन्होंने यह तक कह दिया ममता कहीं राक्षस हिरण्यकश्यप के वंशज तो नहीं हैं।


ममता बनर्जी पर साक्षी महाराज का विवादित बयान


उन्होंने ये बयान अपने हरिद्वार दौरे के दौरान दिया। साक्षी महाराज ने कहा कि बंगाल की जब बात आती है तो त्रेता युग की याद आ जाती है। एक राक्षस राजा था हिरण्यकश्यप, उसके बेटे ने कह दिया था जय श्री राम। तो बाप ने बेटे को जेल में बंद कर दिया था। बहुत सारी यातनाएं दी थी और वही दोहराया जा रहा है बंगाल में। जिसे देखकर लगता है कि ममता बनर्जी हिरण्यकश्यप के खानदान की तो नहीं हैं। जहां बंगाल में जय श्रीराम कहने वालों को यातनाएं दी जा रही हैं। जेल में भेजा जा रहा है। उन्होंने आगे कहा कि यह स्थिति हो गई है कि जय श्रीराम कहने से वो (ममता) खिसियाने लगी हैं। गालियां देने लगी हैं, सड़कों पर उतरने लगी और उसके विरोध में न जाने क्या-क्या योजना बनाने लगी हैं।


साक्षी महाराज का दावा, बंगाल में BJP की बनेगी सरकार 


उन्होंने ममता को निशाने पर लेते हुए कहा कि जिस तरह से पश्चिम बंगाल में इस चुनाव में तमाम विरोधों के बावजूद भारतीय जनता पार्टी को 41 पर्सेंट वोट मिला है। 18 सीटें हम लेकर के आए हैं, तो मैं पूरे विश्वास के साथ मां गंगा के तट पर यह कह सकता हूं कि विधानसभा के चुनाव में पश्चिम बंगाल में भाजपा की सरकार बनेगी। बता दें कि 2019 के चुनाव में साक्षी महाराज एक बार फिर से उत्तर प्रदेश की उन्नाव सीट से जीतकर संसद पहुंचे हैं।


जय श्री राम के नारों पर भड़कीं ममता 


दरअसल, गुरुवार को ममता बनर्जी जय श्री राम के नारे सुनकर नाराज हो गई थीं। इतना ही नहीं, जय श्री राम बोलने वालों को जेल भी भेज दिया गया। बता दें कि उनका काफिला बैरकपुर लोकसभा क्षेत्र के भाटपारा क्षेत्र से गुजर रहा था, तभी वहां मौजूद कुछ लोगों ने 'जय श्री राम' के नारे लगाने शुरू कर दिए, जिससे वो बिफर गई और कहने लगी कि बंगाल गुजरात नहीं है। इससे पहले भी जय श्री राम के नारे पर ममता के गुस्सा होने का वीडियो वायरल हुआ था।


BJP ममता को भेजेगी जय श्री राम लिखे 10 लाख पोस्टकार्ड 


इस बीच पश्चिम बंगाल से बीजेपी के नवनिर्वाचित सांसद अर्जुन सिंह ने ममता बनर्जी को जय श्री राम लिखे पोस्टकार्ड भेजने का फैसला किया है। उन्होंने कहा कि हमने मुख्यमंत्री के आवास पर 10 लाख पोस्टकार्ड भेजने का फैसला किया है, जिसपर जय श्री राम लिखा होगा।