कानून व्यवस्था को लेकर अखिलेश यादव का बड़ा बयान, 'यूपी में किसी की भी हत्या हो सकती है'

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने उत्तर प्रदेश की कानून व्यवस्था को लेकर योगी सरकार पर निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि राज्य के हालात खराब हैं और यहां या तो पुलिस गोली मार देगी या लुटेरे मार देंगे।

By: एबीपी गंगा | Updated: 12 Oct 2019 04:47 PM
Akhilesh yadav target Yogi government on Law and order issue

लखनऊ, शैलेश अरोड़ा।  कुलदीप सिंह सेंगर को हत्या के मामले में क्लीन चिट मिलने और झांसी एनकाउंटर मामले में विपक्ष लगातार सरकार को घेरने में लगा है। डॉ. राम मनोहर लोहिया की पुण्यतिथि पर अखिलेश यादव ने कहा कि उत्तर प्रदेश में किसी की भी हत्या हो सकती है। या तो बदमाश लूट के लिए गोली मार देंगे या फिर पुलिस एनकाउंटर कर देगी। हालांकि अखिलेश के इस बयान को भाजपा ने हास्यास्पद बताया है।


अखिलेश यादव ने कहा कि आप खुद सुरक्षित रहे, अपनी सुरक्षा खुद करें। उत्तर प्रदेश में हत्या या तो पुलिस कर देगी या लूट के लिए कोई न कोई हत्या कर देगा। उन्होंने कहा यूपी की जेलों में अन्याय हो रहा है। गोरखपुर में मुख्यमंत्री नवरात्रि का व्रत रखे रहे हैं और गोरखपुर की जेल में तांडव हो गया मुख्यमंत्री के गोरखपुर में रहते इतनी बड़ी घटना हो गई मुख्यमंत्री को पता तक नहीं चला। सब सीमा लांघ अन्याय हो रहा है। अखिलेश यादव ने झांसी एनकाउंटर पर फिर से सवाल उठाते हुए कहा कि पुष्पेंद्र यादव की मौत कहां हुई? जहां लूट की वारदात हुई एनकाउंटर हुआ या फिर अस्पताल में मौत हुई?


प्रसपा प्रवक्ता दीपक मिश्र ने अखिलेश के इस बयान पर उन्हीं को आड़े हाथों ले लिया। दीपक मिश्र ने कहा कि अखिलेश यादव सिर्फ बयान न दें बल्कि शिवपाल जी की तरह सड़क पर उतरें। अखिलेश यादव सिर्फ बातों को दोहरा रहे हैं, बात करने से कुछ नहीं होता। वहीं दीपक मिश्र ने सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि एनसीआरबी के आंकड़े खुद ही अपराध बढ़ने की पुष्टि करते हैं। अपराध तो बढ़ा ही है ये सभी देख रहे हैं, हत्याएं तो हो ही रही हैं। कुलदीप सिंह सेंगर को हत्या के मामले में क्लीन चिट देने पर भी दीपक मिश्र ने निशाना साधा। उन्होंने कहा कि सीबीआई अब सरकार का तोता बनने से आगे बढ़कर उनकी कठपुतली बन चुकी है।


वहीं अखिलेश के इस बयान को सरकार में राज्य मंत्री मोहसिन रज़ा ने हास्यास्पद बताया। उन्होंने कहा कि ये बयान सपा मुखिया दे रहे जिनके कार्यकाल में पुलिस अधिकारियों की हत्या होती थी। असल में 2022 के मद्देनजर जनता ने साथ छोड़ दिया है। अब अखिलेश यादव अपराधियों के बचाव और पक्ष में बयान दे रहे जिससे 2022 में उनका साथ ले सके। मंत्री ने कहा कि अखिलेश यादव के समय उन्ही के गुंडे हत्या भी करते थे और पुलिस को पीटते भी थे। पहले पुलिस अपराधियों से भागती थी लेकिन आज अपराधी वर्दी से भाग रहे। कुलदीप सेंगर मामले में विपक्ष के हमले का जवाब देते हुए मोहसिन रज़ा ने कहा की चोरों को सारे नज़र आते हैं चोर। हम निष्पक्ष कार्रवाई करते हैं। सरकार जांच एजेंसियों के मामले में दखल नहीं देती।
ये सब कांग्रेस के समय होता था जब उनको सपा, बसपा समर्थन देते थे। अखिलेश के बयान पर भाजपा प्रवक्ता हरिश्चंद्र श्रीवास्तव ने भी कहा ये उनका फ्रस्ट्रेशन दिखाता है। जब से योगी जी CM बने हैं यूपी ही नहीं देश के लोग यूपी की कानून व्यवस्था की सराहना करते हैं।